प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण लाभार्थी सूची – 2018-19 www.iay.nic.in

Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin Beneficiaries List 2018

Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin Beneficiaries List – 2018: केंद्रीय सरकार ने सभी को आवास देने के उद्देश्य प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) और प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण की शुरुआत की। जिसके माध्यम से ग्रामीण और शहरी गरीब लोगो को घर मिल सके। प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण योजना के अंतर्गत सरकार ने वर्ष 2017-18 में  51 लाख घरों के निर्माण करवाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। इसके अलावा सरकार ने 2019 तक 1 करोड़ घरों का लक्ष्य रखा है। इस योजना के अंतर्गत सरकार ने घरो के निर्माण की समय सीमा में भी परिवर्तन किया है। जिसमे निर्माण की अवधि 18-36 महीनों से घटाकर 6-12 महीनों कर दी गई है।

प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण का मुख्य उद्देश्य

हालाँकि पहले यह योजना इंदिरा आवास योजना के नाम से चल रही थी। जिसका बाद में नाम बदल कर प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण कर दिया गया। इस योजना योजना का मुख्य उद्देश्य सभी ग्रामीण गरीब लोगो को आवास प्रदान करना है। जिसमे सरकार वर्ष 2016-17 से 2018-19 तक इन तीन वर्षो में उन एक करोड़ परिवारों को इस योजना का लाभ पहुचना है, जो लोग बेघर या कच्चे/जीर्ण-शीर्ण मकानों में रह रहे है।

Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin Beneficiaries List – 2018

सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण के अंतर्गत लाभार्थियों के विवरण और सूची की जांच के लिए ऑनलाइन पोर्टल खोल दिया है। अब लोग pmayg.nic.in की आधिकारिक वेबसाइट पर SECC – 2011 Data में लाभार्थी की 7 अंकों की PMAYID का उपयोग करके PMAY-G के लाभार्थियों की सूची और परिवार विवरण देख सकते हैं।

हालांकि, यह योजना इंदिरा आवास योजना (IAY) के नाम पर चल रही थी लेकिन इसे प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण में बदल दिया गया है। अब आवेदक PMAY-G के आधिकारिक वेबसाइट पर SECC -2011 के अनुसार अपने नाम और लाभार्थियों के परिवार के सदस्यों का ब्यौरा देख सकते हैं।

प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण – के लाभार्थी की सूची – Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin Beneficiaries List – 2018

आवेदक IAY/PMAY-G Beneficiaries में Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin Beneficiaries List और परिवार के विवरणों की जांच कर सकते हैं, कुछ सरल चरणों का पालन करके।

पहला कदम: पहले चरण में, आवेदक को pmayg.nic.in पर पीएमए-जी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

दूसरा चरण: दूसरे चरण में, आवेदक को “Stakeholders” मेनू पर क्लिक करना होगा और “IAY/PMAY-G Beneficiaries” लिंक पर क्लिक करना होगा।

pmay-g-beneficiaries-list

तीसरे चरण: IAY / PMAY-G लाभार्थी पर क्लिक करने के बाद तीसरे चरण में, आप एक नए पेज पर पहुंचेंगे जहां आपको “Registration Number” दर्ज करना होगा और अंत में “Submit” बटन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद, आप Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin Beneficiaries List PMAY-G के स्तर को देख सकेंगे।

check-pmayg-beneficiary-details

आवेदकों को “Advanced Searchhttp://awaassoft.nic.in/netiay/AdvanceSearch.aspx विकल्प का उपयोग  करकुछ बुनियादी विवरण भर कर जैसे राज्य, जिला, ब्लॉक, पंचायत, योजना नाम, वित्तीय वर्ष, नाम, बीपीएल नंबर, खाता संख्या और पिता / पति का नाम डाल कर खोज सकते है।

SECC – 2011 सूची में लाभार्थी के पारिवारिक विवरणों की जांच कैसे करें:

आवेदक निम्न चरण का उपयोग करके एसईसीसी -2011 के डाटा में PMAY-G के लाभार्थी परिवार के विवरणों की भी जांच कर सकते हैं:

पहला कदम: इस खंड में, आवेदक को http://pmayg.nic.in आधिकारिक वेबसाइट पर फिर से जाना होगा और “Stakeholder” मेनू पर जाकर छवि के नीचे “SECC Family Member Details” लिंक पर क्लिक करें।

दूसरा चरण:SECC Family Member Details” लिंक पर क्लिक करने के बाद आप एक नए पेज पर पहुंचेंगे जहां आपको अपना राज्य चुनना होगा और 7 अंकों के अद्वितीय PMAYID ​​दर्ज करें।

pmayg-beneficiary-family-detail-secc-data-2011

तीसरा चरण:Get Family Member Details” बटन पर क्लिक करें और फिर आप SECC-2011 के आंकड़ों के अनुसार लाभार्थी परिवार के सदस्यों का पूरा विवरण देख सकेंगे।

इसके अलावा लोग डिस्ट्रिक्ट वाइज लिस्ट में अपना नाम भी खोज सकते है। सरकार ने इस योजना को लगभग 34 राज्यों में क्रियांवित किया है। जिसमे आप  वित्तीय वर्ष के अनुसार लाभार्थियों की सूची देख सकते है।

यहां 34 राज्यों की वित्तीय वर्ष के अनुसार सूची लाभार्थियों की सूची उपलब्ध है –

अरुणाचल प्रदेश
असम
बिहार
छत्तीसगढ़
गोवा
गुजरात
हरयाणा
हिमाचल प्रदेश
जम्मू और कश्मीर
झारखंड
केरल
मध्य प्रदेश
महाराष्ट्र
मणिपुर
मेघालय
मिजोरम
नगालैंड
ओडिशा
पंजाब
राजस्थान
सिक्किम
तमिलनाडु
त्रिपुरा
उत्तर प्रदेश
उत्तराखंड
पश्चिम बंगाल
अंडमान एवं निकोबार
दादर और नगर हवेली
दमन और दीव
लक्षद्वीप
पुडुचेरी
आंध्र प्रदेश
कर्नाटक
तेलंगाना

यहाँ आप लिस्ट में अपना राज्य, जिला और ग्राम पंचयत डाल कर नाम जाँच कर सकते है

अधिक जानकारी के लिए आप इंदिरा आवास योजना – प्रधानमंत्री आवास योजना – ग्रामीण की अधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते है।

7 comments

  • ramoo sharma

    pm gi hamra kcha makan h me grib hu akela kamta hu sab privar ka charch dechta hu ase liye gar nahi bana pata hu

  • Ram bahadur

    Mhalla tehara shahari Palia kalan kheri ka rahane vala hun mera name ram bahadur hai avas list me name aaya hai aur 1li kist bhi mil gai hai 2ri kst bhi sare logon ki aagi hai jinke pakka makan hai lekin mere pas 2ri kst nahi aayi hai kyuoki mai garib hun nahi mere pas khud ka pakka makan hai
    Mere vahan ke membar jo hain batham vo hamarikoi sunta hi nahi hai

    • Ram bahadur

      Paradhan mantri avas yojana ka patr hote hue bhi koi labh nahi mila ashay labharti
      Name rambahadur
      State up
      Distic khiri
      Mohalla tehara shahari palia kalan
      Mobil 8009838983

  • anil babu kushwah

    Pm gee hamara kachcha ghar he me garib ho akela hi ghar ka kharch chalata ho ghar nahi bana pa rah ho mera name anil kushwah he me nibashimp jila vidisha bilok nateran gram panchayat pipariya m. n .9516675438

  • Ritz

    You can find all important things and get home loan subsidy here if you are already eligible for Pradhan Mantri Awas Yojana. please check it here.

  • Prashant yadav

    Sir ,
    Subject – pradhan mantri awas yojna apaatra logo k chadha bhet.

    Savinay nivedan hai ye mamala up k mau dist me adari town ka hai yaha ward no 1 or ward no 5 me 90 % apaatra logo ko awas mil rha hai .
    Ham sabhi nagar wasi chahate hai ki iski sahi jaach karakar sahi patra logo ko dilane ka kast kre

  • Suresh Kumar Behera

    Sir, one of the land has been sanctioned to my sister in law on 2016,due to finance trouble she has not completed yet, now सरपंच threatened her that if she has not complete up to next 06 day, then he will sanction to another, is there any rule, please guide me any one, heartily request. Contact no 9149325112.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *